दांत दर्द का घरेलू इलाज

अवलोकन

जब भी दांतों में दर्द होता है तो व्यक्ति कुछ भी नहीं खा पाता है। दांत दर्द मुझे हमेशा परेशान करता है। यह भी संभव नहीं है कि रोगी अपना पेशा छोड़कर बार-बार होने वाले दांत दर्द के इलाज के लिए डॉक्टर के पास जाए। इसलिए घरेलू उपचार की जरूरत है। अगर आप भी परेशान हैं तो दांत दर्द के घरेलू नुस्खे आजमा सकते हैं।

दांत दर्द एक आम समस्या है, लेकिन यह बहुत ही असहनीय है। कई बार दांत दर्द के कारण भी चेहरे पर सूजन आ जाती है। सिरदर्द भी हो सकता है। दांत दर्द किसी भी उम्र में हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार दांत दर्द के तुरंत बाद पेन किलर या एंटीबायोटिक दवा लेने की बजाय घरेलू नुस्खे अपनाने चाहिए।

दांत दर्द क्या है?

आयुर्वेद के अनुसार दांत दर्द वात दोष के कारण होता है। खान-पान, साफ-सफाई और घरेलू नुस्खों में सुधार करके दांत दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है।

दांत दर्द के प्रकार

दांत दर्द दो प्रकार के होते है:-

  • इसमें दांतों में तेज दर्द होता है, जिसे तेज दांत दर्द कहते हैं। यह खाने या बात करते समय बहुत जल्दी होता है।
  • दर्द ज्यादा गर्म या ठंडा खाना खाने से होता है। इस दर्द को सुस्त दांत दर्द भी कहा जाता है। यह हल्का होता है और अधिक समय तक चलता है।

दांत दर्द के कारण

दांत दर्द के कारण हो सकते हैं:-

  • स्वस्थ दांतों के लिए दांतों की देखभाल जरूरी है। अगर दांतों की देखभाल नहीं की जाती है तो दांतों में कीड़े लगने का डर रहता है। इससे दांतों में कैविटी हो जाती है। इससे दांत दर्द होता है।
  • दांतों की जड़ों का कमजोर होना। दांतों की ठीक से सफाई न करने से दांतों की जड़ें कमजोर हो जाती हैं। इससे दांतों में दर्द होता है।
  • दांतों में दर्द दांत टूटने से भी होता है।
  • विस्डम टूथ को हटाने के दौरान दांतों में असहनीय दर्द होता है।
  • ज्यादा मीठा खाने से भी दांत दर्द होता है। मीठा खाने के बाद भोजन के कण दांतों और मसूड़ों में रह जाते हैं। ये कीटाणु एसिड पैदा करते हैं, जो दांतों को नुकसान पहुंचाते हैं। यह संक्रमण दांतों की जड़ों तक पहुंचता है और दांतों में दर्द का कारण बनता है।
  • कैल्शियम की कमी से दांत कमजोर हो जाते हैं, जिससे दांतों में दर्द होता है।
  • बैक्टीरिया के संक्रमण से दांतों में दर्द होता है।

छोटे बच्चों में दांत दर्द के कारण

दांत दर्द की समस्या अक्सर छोटे बच्चों में देखने को मिलती है। अधिक मीठा खाने और दांतों को ठीक से साफ न रखने से बच्चों में बैक्टीरियल इंफेक्शन होने का खतरा अधिक होता है। इससे उनके दांतों में कैविटी बन जाती है। इससे दर्द होता है।

एक ज्ञान दांत क्या है?

बुद्धि दाढ़ आमतौर पर 17 और 25 की उम्र के बीच फूटती है। कई लोगों में यह 25 साल बाद भी आता है। वे काफी मजबूत हैं। ये दांत सबसे आखिरी में आते हैं, इसलिए जब इन्हें अपनी जगह नहीं मिलती है, तो ये मसूड़ों और दांतों पर दबाव डालते हैं। इससे असहनीय दर्द होता है। ज्ञान दाढ़ का दर्द लगभग एक या दो दिन या कभी-कभी तीन दिनों तक भी रहता है।

यह गंभीर दर्द के साथ-साथ सिरदर्द भी पैदा कर सकता है। व्यक्ति को भोजन चबाने में कठिनाई होती है। मसूड़ों में सूजन आ जाती है। कभी-कभी अक्ल दाढ़ का दर्द अचानक आ जाता है। कभी-कभी यह दर्द धीरे-धीरे और आसानी से होता है। इसलिए हर 6 महीने में डेंटिस्ट के पास जाकर इस समस्या का पहले से पता लगाया जा सकता है।

दांत दर्द का घरेलू इलाज

एलोपैथिक इलाज में सिर्फ दांत के दर्द को कुछ समय के लिए दबा दिया जाता है और इसके लिए दर्द निवारक, दर्द निवारक या एंटीबायोटिक लेने की बात कही जाती है। एलोपैथिक दवाओं से शरीर में साइड-इफेक्ट का भी खतरा रहता है। इसके बजाय दांत दर्द में तुरंत राहत पाने के लिए घरेलू उपचार अपनाना फायदेमंद होता है, जो इस प्रकार हैं:-

लौंग से दांत दर्द का इलाज

लौंग

एक लौंग को दांत के नीचे दबाने से दांत दर्द में तुरंत आराम मिलता है। लौंग का तेल भी दर्द से राहत दिलाने में कारगर है।

लहसुन से दांत दर्द का इलाज

लहसुन

दांत दर्द होने पर लहसुन चबाएं। इसमें मौजूद एलिसिन एक प्राकृतिक जीवाणुरोधी एजेंट है। यह दांत दर्द को दूर करता है।

दांत दर्द की दवा है हींग

हींग

 

मौसमी रस में चुटकी भर हींग मिलाकर रूई पर लगाएं। इसे दर्द वाले दांत के पास लगाएं। दांत दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए यह सबसे अच्छे घरेलू उपचारों में से एक है।

हल्दी देती है दांत दर्द से तुरंत राहत

हल्दी

हल्दी एक प्राकृतिक एंटीबायोटिक है। दर्द वाले दांत पर हल्दी, नमक और सरसों के तेल का लेप लगाना चाहिए। यह दांत दर्द की दवा की तरह जल्दी काम करता है और दर्द से तुरंत राहत देता है।

दांत दर्द से छुटकारा पाने के लिए करें आलू का इस्तेमाल

आलू

आलू को छोटे छोटे टुकड़ों में काट कर कच्चा चबा लें। इससे दांतों के दर्द में कुछ देर में आराम मिलता है।

दांत दर्द की समस्या में प्याज के फायदे

प्याज

प्याज अपने गुणों के कारण मुंह के बैक्टीरिया और बैक्टीरिया को नष्ट कर देता है। अगर दांत में दर्द हो तो प्याज का एक टुकड़ा दांत के पास रखें या उसे चबाएं।

दांत दर्द की दवा है बेकिंग सोडा 

बेकिंग सोडा 

कॉटन को पानी में डुबोकर निचोड़ लें। इसमें बेकिंग सोडा छिड़कें, फिर दर्द वाले दांत पर मलें। इसके अलावा गुनगुने पानी में बेकिंग सोडा से धो लें। दांत दर्द की दवा लेने की बजाय पहले यह घरेलू उपाय आजमाएं, दांत दर्द में तुरंत आराम मिलता है।

दांत दर्द के लिए काली मिर्च पाउडर का इलाज

काली मिर्च

दांतों में ठंड और गर्माहट महसूस होने पर होने वाले दर्द के लिए काली मिर्च का पाउडर और नमक को बराबर मात्रा में मिला लें। इसमें पानी की कुछ बूंदों को मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे दर्द वाली जगह पर लगाएं और कुछ मिनट के लिए छोड़ दें। ऐसा करने से दांत का दर्द जल्दी ठीक हो जाता है।

अमरूद से दांत दर्द का इलाज

अमरूद

  • अमरूद के पेड़ की ताजी पत्तियों को साफ करके मुंह में रखकर चबाएं।
  • अमरूद के पेड़ की ताजी पत्तियों को पानी में उबालकर ठंडा कर लें। इसमें नमक डालकर धो लें। अमरूद की पत्तियों में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। इसके सेवन से दांत दर्द में तुरंत आराम मिलता है।

हाइड्रोजन पेरोक्साइड से दांत दर्द का उपचाार

हाइड्रोजन पेरोक्साइड

हाइड्रोजन पेरोक्साइड से कुल्ला। यह दर्द और सूजन को ठीक करता है। बैक्टीरिया को दूर करता है। इसके अलावा यह दांतों में प्लाक और मसूढ़ों से निकलने वाले खून की समस्या को भी दूर करता है।

दांत दर्द में कोल्ड कंप्रेस देता है राहत

अगर दांत में दर्द किसी चोट की वजह से है तो आप कोल्ड कंप्रेस कर सकते हैं, इससे आपको दर्द में तुरंत आराम मिलेगा। इसके लिए आप अपने गालों पर दर्द वाली जगह पर कोल्ड कंप्रेस करके राहत पा सकते हैं।

पेपरमिंट टी बैग है दांत दर्द का घरेलू इलाज

दांत दर्द के लिए आप पेपर बैग का उपयोग कर सकते हैं, यह आपको कुछ समय के लिए अस्थायी राहत भी देता है। इसके लिए पेपर बैग को दर्द वाली जगह पर कुछ देर तक रखकर दर्द से कुछ देर के लिए राहत मिल सकती है।

व्हीटग्रास है दांत दर्द का घरेलू इलाज

व्हीटग्रास के इस्तेमाल से दांत दर्द में भी आराम मिलता है, इसके लिए आप व्हीटग्रास के रस को मुंह में भरकर इस्तेमाल कर सकते हैं और व्हीटग्रास के दर्द वाली जगह पर रखने से दर्द में कुछ देर के लिए आराम मिलता है।

अजवायन की पत्ती है दांत दर्द दूर करने का घरेलू उपाय

अजवायन का प्रयोग दांत दर्द को दूर करने का एक बहुत ही कारगर घरेलू उपाय है, जिसमें अजवाइन के पत्तों को दर्द वाली जगह पर चबाने से दर्द में आराम मिलता है।

दांत दर्द में आपका आहार

दांत दर्द से पीड़ित लोगों को अपना खान-पान ऐसे रखना चाहिए:-

  • मीठे और चिपचिपे खाद्य पदार्थों का सेवन कम से कम करें।
  • ज्यादा ठंडी और ज्यादा गर्म चीजें न खाएं।
  • कुछ भी खाने के बाद अच्छी तरह धो लें।

दांद दर्द में आपकी जीवनशैली

दांत दर्द के दौरान आपकी जीवनशैली कुछ इस तरह होनी चाहिए:-

  • अपने दांतों को नियमित रूप से सुबह और सोने से पहले ब्रश करें।
  • हर 6 महीने में अपने डेंटिस्ट से डेंटल चेकअप करवाएं।

दांत दर्द होने पर डॉक्टर से कब संपर्क करें?

दांत में दर्द होते ही ज्यादातर लोग दर्द की दवा लेना शुरू कर देते हैं, वहीं आपको सबसे पहले ऊपर बताए गए घरेलू नुस्खे (Dant Dard Ke Gharalu Upay) को आजमाना चाहिए। अगर इन घरेलू नुस्खों के बाद भी दांत दर्द से राहत नहीं मिलती है तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें। आप इन स्थितियों में डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं:-

  • यदि दांत में दर्द एक दिन से अधिक समय तक बना रहे और घरेलू उपचार से आराम नहीं मिल रहा हो।
  • मसूढ़ों से खून और बदबू आ रही है।
  • यदि अक्ल दाढ़ के कारण दर्द बढ़ रहा हो।

 

Leave a Comment